हिमाचल…आदि कैलाश में फंसे 16 हिमाचली श्रद्धालु, उत्तराखंड ने शुरू किया रेस्क्यू आपरेशन, कई यात्री निकाले

0
Ad

शिमला। आदि कैलाश में हिमाचल के 16 श्रद्धालुओं के फंसे होने की सूचना है। एसईओसी शिमला ने बताया कि कुल 16 हिमाचली फंसे हैं, जिसमें रविवार को निकाले गए व्यक्तियों की संख्या एक है। जबकि सोमवार को 3 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है।

Ad

गुजरात, राजस्थान और हिमाचल प्रदेश के यह तीर्थयात्री आदि कैलाश के पास संपर्क मार्ग के टूटने के कारण फंसे हुए थे। स्थिति की जांच करने पर पता चला है कि फंसे हुए लोगों में 16 हिमाचली हैं। फंसे हुए लोगों का विवरण इस प्रकार है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड...डबल ध ...माल: सरकारी डाक्टर का प्राइवेट अल्ट्रासाउंड क्लीनिक सील

गोविंद निरमंड कुल्लू, राजकुमारी निरमंड कुल्लू, केर सिंह निरमंड कुल्लू, जीव सिंह निरमंड कुल्लू, देवी राम रामपुर शिमला, पूनम कुमारी करसोग शिमला, गुंजन देवी करसोग शिमला, मानता सिंह करसोग शिमला, उर्मिला करसोग शिमला, जूरी लाल करसोग शिमला, लता करसोग शिमला, कीर्ति सरूप झाकड़ी शिमला, पूनम कुमारी झाकड़ी शिमला, देवी दत्त कुल्लू, बबीता कुल्लू व कला नेगी कुल्लू शामिल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड …अंकिता भंडारी के परिवार को सरकार देगी 25 लाख की आर्थिक सहायता


डीएम सैल ने फंसे हुए लोगों को निकालने और सहायता प्रदान करने के लिए जिला प्रशासन उत्तराखंड के पिथौरागढ़ के साथ संचार स्थापित किया है। इस संबंध में राज्य सरकार उत्तराखंड के हेलीकाप्टर ने ने 18 सितम्बर को एक नागरिक हैलीकॉप्टर की मदद से 4 उड़ानें भरीं और 1 हिमाचली गोविंद के साथ 15 लोगों को बूढ़ी से धारचूला निकाला गया। मौसम की स्थिति के कारण हैलीकॉप्टर संचालन को निलंबित कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें 👉  कालाढूंगी…पांच हजार रूपये लेने बाजपुर गया व्यक्ति डेढ़ माह से लापता, बेटे की शिकायत पर एक के खिलाफ हत्या का केस दर्ज


सोमवार को 4 उड़ानें भरी गई हैं जिसमें 3 हिमाचली राजकुमारी, कीर्ति स्वरूप और बबीता को बूढ़ी से धारचूला लाया गया और मौसम की स्थिति के कारण हैली ऑप्रेशन को निलंबित कर दिया गया है। अब जिला प्रशासन पिथौरागढ़ को बहाल करने की प्रक्रिया में है। क्षतिग्रस्त सड़क को शाम तक ठीक कर दिया गया है ताकि सभी फंसे हुए लोगों को सड़क मार्ग से निकाला जा सके।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here