ब्रेकिंग उत्तराखंड : कुंभ मेले में आए 175 और साधु संत कोरोना पाजीटिव मिले, जूना अखाड़ा बोला- कुंभ समाप्त

0
Ad

हरिद्वार। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद साधु-संतों ने हरिद्वार कुंभ को तय समय से 13 दिन पहले खत्म करने पर सहमति दे दी है। हालांकि कुंभ में प्रतीकात्मक तौर पर धार्मिक आयोजन होते रहेंगे। 13 अखाड़ों में सबसे बड़े जूना अखाड़े की तरफ से शनिवार शाम को कुंभ खत्म करने की घोषणा की गई। निरंजनी और आनंद अखाड़ा पहले ही अपनी ओर से कुंभ समाप्ति की घोषणा कर चुके हैं। तय कार्यक्रम के मुताबिक कुंभ मेला 30 अप्रैल तक चलना था और इसमें आखिरी शाही स्नान 27 अप्रैल को होना था।
हरिद्वार के चीफ मेडिकल ऑफिसर (CMO) डॉ. एसके झा ने बताया कि कुंभ मेले में शामिल होने वाले 175 साधुओं की कोरोना रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई है। इसके बाद पॉजिटिव आने वाले साधुओं की संख्या बढ़कर 229 हो गई है। कुछ अखाड़े समय से संत पहले कुंभ मेला समाप्त करने की बात से नाराज थे। उनका कहना था कि मेला तय समय तक ही चलना चाहिए। सूत्रों के मुताबिक इन साधु-संतों को मनाने के लिए उत्तराखंड सरकार पिछले 2 दिन से गुप्त बैठकें कर रही थी। दरअसल, केंद्र सरकार मेला जल्द से जल्द खत्म कराना चाहती है, लेकिन वह यह नहीं चाहती थी कि इसके लिए कोई सरकारी निर्देश जारी किया जाए। बल्कि, केंद्र साधु-संतों से खुद मेला खत्म होने की घोषणा कराना चाहती थी।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…मौसम की मार: वीडियो/ रानीबाग में तीन चिताओं पर मंडराया बहने का संकट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here