हल्द्वानी…ब्रेकिंग न्यूज: ब्लाॅक चौराहे की वाइन शाप में आधा घंटे में दो बार हमला, दुकान स्वामी के भाई का सिर फोड़ा, 50 हजार की रंगदारी मांगी, एक हमलावर पकड़ा गया

0
Ad

हल्द्वानी। कालाढूंगी ब्लाॅक चौराहे पर स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान पर कल आधा घंटे के भीतर दो बार कई युवकों ने धावा बोला। गजब यह है कि इसी दौरान पुलिस भी दुकानदार की शिकायत पर दुकान पर पहुंची थी। युवकों ने दुकान के भीतर घुसकर दुकान स्वामी के भाई का शराब की बोतल मार कर सिर फोड़ दिया। जब मारपीट के बाद जब हमलावर भाग रहे थेतब दुकान पर काम करने वाले सेल्समेनों ने एक को पकड़ लिया, जिसे बाद में पुलिस को सौंप दिया गया। दुकान स्वामी का आरोप है कि दुकान में घुसे युवक वहां बैइे उनके भाई से 50 हजार रूपये की रंगदारी मांग रहे थे। पुलिस ने मामला दर्ज करके छज्ञनबीन शुरू कर दी है। दुकान स्वामी के घायल भाई के सिर पर आठ से दस टांके आए हैं।
मिली जानकारी के अनुसार काल्ज्ञढूंगी रोड़ पवर ब्लाॅक चैराहे पर स्थित शराब ठेके का स्वामी दमुवाढूंगा बंदोबस्ती स्थित कैलाश व्यू कालोनी निवासी गिरीश सिंह नेगी है। उनका छोटस भाई महेंद्र सिंह नेगी उफ नानू इस दुकान पर बैठता है।
मुखानी पुलिस थाने में दी गई तरीर के मुताबिक कल यानी 22 जुलाई शाम 5.53 बजे दो तीन युवक अचानक दुकान के अंदर जा घुसे। युवक पीने के लिए शराब और पचास हजार रूपये की रंगदारी मांग रहे थे। तब सेल्समेनों औ महेंद्र नेगी ने जैसे तैसे उन्हें दुकान से बाहर निकाला और मामले की जानकारी पुलिस को दे दी। कुछ ही देर में पुलिस मौके पर पहुंच गई लेकिन तब तक तीनों युवक वहां से चले गए थे। कुछ देर वहां रहने के बााद पुलिस वापस लौट गई।
पुलिस के जाने के बाद 6.18 मिनट पर अचानक आठ से दस लड़कों ने दुकान पर धावा बोल दिया। जिस वक्त लड़के दुकान पर पहुंचे। शराब से लदा ट्रक अनलोड हो रहा था और दुकान का मुख्य द्वारा खुला था। इसी रास्ते सभ्ज्ञी लड़के अंदर आ गए। आरेप है कि वे एक बार फिर पचास हजार की धनराशि व पीने के लिए शराब की मांग करने लगे।
जब महेंद्र नेगी ने इससे इन्कार किया तो उनमें से एक ने दुकान पर रखी शराब की बोतल उठाकर उसके सिर पर दे मारी। उक्त प्रहार से महेंद्र जख्मी हो गया, उसके सिर सेखून रिसता देख हमलावर लड़के वहां से भागने लगे। ऐसे में दुकान पर काम करने वाले सेल्समेनों ने भागते हुए हमलावरों में से एक को दबोच लिया। बाद में उससे पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम गोविन्द कश्यप बताया। उसने बताया कि वह भगवानपुर, हल्द्वानी का रहने वाला है।
इसके बाद एक सेल्समेन ने फोन पर मुखानीपुलिस से संपर्क किया और पूरी घटना बताई। बाद में पुलिस मौके पर पहुंची और पकड़े गए गोविंद कश्यप को अपने साथ ले गई। उधर जयमी महेंद्र नेगी को कुसुमखेड़ा के एक निजी चिकित्सालय में ले जाया गया। जहां उसके सिर पर आठ से दस टांके आएै। आरोप है कि हमलावरों ने नानू को दोबारा दुकान पर बैठे दिखने पर जान से मारने की धमकी भी दी है। यह सारा घटनाक्रम दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हैं। जिसकी फुटेज दुकान स्वामी गिरीश नेगी ने पुलिस को सौंप दी है।

कुमाऊं…ब्रेकिंग न्यूज: सरकारी फाॅरेसिंक एक्सपर्टस को मारने की साजिश, पानी की बोतल में मिला दिया पारा, केस दर्ज

सितारगंज …ब्रेकिंग न्यूज: विजिलैंस की टीम ने दबोचा रिश्वतखोर कानूनगो, दाखिल खारिज की एवज में मांग रहा था 9 हजार

यह भी पढ़ें 👉  ये क्या…. टाइपिंग में हुई मामूली गलती के कारण जेल, हाईकोर्ट का सरकार को दो लाख रुपए मुआवजा देने का निर्देश
Ad
Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here