ब्रेकिंग न्यूज : 15 दिन गंगा स्नान से करें परहेज, वैज्ञानिक बोले- गंगा के पानी में आ सकता है कोरोना

0
Ad

हल्द्वानी। हरिद्वार में कुंभ मेले पर छाए कोरोना के बादलों के बीच अब वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि गंगा के पानी के कारण गंगा बेसिन वाले क्षेत्रों में कोरोना खतरनाक रूप से फैल सकता है। महामना मालवीय गंगा नदी विकास एवं जल संसाधन प्रबंधन शोध केंद्र बीएचयू के चेयरमैन व नदी विज्ञानी प्रो. बीडी त्रिपाठी ने आम जनता से अपील की है कि वे कम से कम 15 दिनों तक गंगा स्नान से दूरी बनाकर रखें।
उन्होंने नमामि गंगे के अधिकारियों को भी पत्र लिखकर यह मांग की है कि वह गंगा बेसिन क्षेत्र में अलर्ट जारी करें। प्रो. बीडी त्रिपाठी ने बताया कि अभी तक कोरोना वायरस की दवा पूरी दुनिया में नहीं है। यही नहीं अभी तक गंगाजल द्वारा कोरोना वायरस के खात्मे की शोध रिपोर्ट भी पूरी हुई नहीं है। हम आपको बता दें कि हरिद्वार से लगभग 800 किमी. का इलाका गंगा बेसिन कहलाता है। जिसमें गढ़मुक्तेश्वर, सोरो, फर्रुखाबाद, कन्नौज, बिठूर, कानपुर, रायबरेली, प्रयागराज, मिर्जापुर, वाराणसी, गाजीपुर, बलिया, बक्सर, पटना, भागलपुर आदि शामिल हैं।

Ad

ताजा खबरों के लिए जुड़े व्हाट्स एप ग्रुप से 👉 Click Now 👈

यह भी पढ़ें 👉  मोटाहल्दू… अभी-अभी : पाडलीपुर में घर में घुसी अज्ञात युवती, अपने घर में बच्चे के जन्म दिन के निमंत्रण का बहाना बनाते हुए आलमारी खंगाली, कमरे में मौजूद बच्चे को गोद में उठाया और…

ऐसे में जब तक गंगाजल द्वारा वायरस को मारने की पुष्टि नहीं हो जाती है, तबतक लोगों को गंगा स्नान और गंगा तट से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। उन्होंने बताया कि वायरस सूखी सतह के मुकाबले पानी में तेजी से फैलता है और लंबे समय तक सक्रिय रहता है। गंगा जल के साथ ही वायरस और लोगों तक पहुंच सकता है। 
प्रो. त्रिपाठी ने बताया कि रुड़की विश्वविद्यालय के वाटर रिसोर्स डिपार्टमेंट के सीनियर साइंटिस्ट डॉ. संदीप शुक्ला ने भी गंगा के रास्ते संक्रमण फैलने पर चिंता जाहिर की है। 12 वैज्ञानिकों की टीम बहते हुए पानी में कोरोना वायरस के सक्रिय रहने के समय पर शोध कर रही है। यह पता लगाया जा रहा है कि यह वायरस पानी में कितने समय तक सक्रिय रह सकता है। शोध पूरा होने के बाद इसका खुलासा होगा।
 

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…युवती से फोन झपट का भाग रहा था उचक्का, युवती—भाई और सहेली ने दबोचा, पुलिस के हवाले किया दमुवाढूंगा निवासी युवक

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here