चकराता अपडेट : छानी के मलबे से निकाले बाप-बेटी व भतीजी के शव, दो दर्जन पशुओं की मौत की भी पुष्टि

0

देहरादून। चकराता में अतिवृष्टि ने एक ही परिवार के तीन लोगों की जान ले ली जबकि इस घटना में चार लोग घायल हुए हैं। तीनों मृतकों के शव मलबे से निकाल लिए गए हैं। चारों घायलों को चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।
आपदा परिवालन केंद्र से मिली जनकारी के अनुसार ग्राम पंचायत जोगियों, ग्राम कवांसी के बिजनाड़ छानी में भारी वर्षा के कारण मकान क्षतिग्रस्त हो गया, जिसमें एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मृत्यु हो गई। मृतकों में मुन्ना पुत्र गुन्ता 32 वर्ष, कुमारी काजल पुत्री शीशपाल उम्र 13 वर्ष, कुमारी साक्षी पुत्री मुन्ना उम्र 13 वर्ष की मौके पर ही मृत्यु हो गई। घायलों में बानो पत्नी मुन्ना उम्र 32 वर्ष, मुकुल पुत्र मुन्ना उम्र 15 वर्ष, उषा पत्नी विक्रम उम्र 30 वर्ष, बालो देवी पत्नीशीशपाल उम्र 31 वर्ष शामिल है। इस घटना में 15 बकरियां, 5 बैल, 5 गाय, 1 घोड़ा- खच्चर आदि मवेशी मारे जाने की सूचना है। मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रू0 अनुग्रह सहायता राशि तथा सामान एवं अन्य क्षतिपूर्ति के रूप में अहेतुक सहायता 5900 रू0 की धनराशि प्रत्येक मृतक के परिजन को उपलब्ध करा दी गई है।

इससे पहले की हमारी खबर

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल…वाह जी : माता—पिता का आभार जताने के लिए युवक ने चुना अनोखा तरीका

चकराता अपडेट : मलबे से मिला एक शव, तीन लापता लोगों की तलाश जारी, तीन लोग मलबे में दबे

देहरादून। चकराता में बादल फटने के बाद लापता हुए एक व्यथ्कत का शव बरामद हो गया है। दो लड़कियों की तलाश जारी है। सीएम तीरथ सिंह रावत ने ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि प्रभावितों को मदद पहुंचाने सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने बताया है कि इस घटना में चार लोग लापता हैं जबकि तीन लोगों के मलबे में दबे होने की खबर है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर…व्यापारी से हाथापाई करने पर दरोगा सस्पेंड

राहत दलों ने 32 वर्षीय मुन्ना का शव बरामद किया है जबकि 13 वर्षीय साक्षी व काजल तलाश की जा रही है। जानकारी के मुताबिक देहरादून जिले के जौनसार बाबर के क्वासी क्षेत्र में बिजनाड खड्ड नामक स्थान पर बादल फटने की घटना में तीन लोगों के गायब हो गए। इस घटना में कुछ पशुओं के भी बह जाने की सूचना है।

इससे पहले की हमारी खबर

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…डिस की तार से युवक ने फांसी लगा दी जान

ब्रेकिंग उत्तराखंड : चकराता में बादल फटा, दो लड़कियों समेत तीन लोग लापता

देहरादून। जिले के चकरता तहसील के बिजनू के समीप बिजनाड छानी में बादल फटने से भारी तबाही की खबर आ रही है। सुबह बादल फटने से कोल्हा गांव में मकान ध्वस्त होने से 3 लोगों के लापता होने की खबर है । अनमें दो लड़कियां भी शामिल हैं। पुलिस व एसडीआरएफ टीम मौके पर रवाना हो चुकी है
चकराता तहसील के अंतर्गत क्वांसी के पास खेड़ा बिजनाड़ में कोल्हा निवासी कुछ ग्रामीण किसानों की छानिया है। गुरुवार सुबह अतिवृष्टि के कारण बिजनाड़ में रह रहे स्थानीय ग्रामीण कालिया, फंकियारु व गुंता नामक तीन ग्रामीण परिवारों की छानी पर पहाड़ से भारी मात्रा में मलबा आ गया। जिसकी चपेट में आने से एक युवक और दो लड़कियां लापता बताए जा रहे हैं। इसके अलावा ग्रामीणों के पशु और मवेशी भी मलबे के नीचे दब गए। घटना की सूचना के तुरंत बाद एसडीएम संगीता कन्नौजिया के निर्देशन में तहसीलदार पूरण सिंह तोमर के नेतृत्व चकराता से एसडीआरएफ की टीम मौके के लिए रवाना हो गई है। घटनास्थल सड़क मार्ग से 2 किमी दूर पैदल है। आसपास के लोग राहत बचाव कार्य में जुट गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here