नालागढ़ : बाजारों में नहीं देखने को मिल रहा कोरोना कर्फ्यू का असर, आधा बाजार खुला और आधा बंद

0

नालागढ़। देश के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश में भी कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं जिसको लेकर प्रदेश सरकार द्वारा 10 दिन के लिए कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है प्रदेश के सबसे बड़े ओद्योगिक क्षेत्र बद्दी बरोटीवाला नालागढ़ में कर्फ्यू के पहले दिन कोई भी कर्फ्यू का खास असर नहीं देखने को मिला। आपको बता दें कि जरूरी सामान की सभी दुकानें खुली है और करीबन आधा बाजार खुला और आधा बाजार बंद है जिसके चलते लोगों की आवाजाही बाजार में आम देखी गई इस बारे में स्थानीय लोगों का कहना है कि अगर सरकार को कोरोना पर कंट्रोल करना है तो पूर्ण तौर पर कर्फ्यू लगाना चाहिए जिसके कारण कोरोना की चेन को तोड़ा जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात… 6 दिसंबर 2022 : आज का पंचांग, आज का इतिहास और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल

लोगों का कहना है कि शहर में आधी दुकानें खुली है और आधी दुकानें बंद जिसके चलते हर कोई सामान खरीदने के लिए बाजारों में आ रहा है जिन कारणों के कारण सरकार ने कर्फ्यू लगाया है वह तो बाजारों में रौनक वैसे ही है जैसी आम दिनों में होती थी लोगों ने सरकार से अपील की है कि अगर कोविड-19 पर पूर्ण तौर पर कंट्रोल करना है तो पूर्ण तौर पर कर्फ्यू लगाया जाए और सामान खरीदने के लिए समय सारणी तैयार की जाए जिस कारण कुछ समय के लिए लोग आए हो सामान लेकर अपने-अपने घरों में चले जाएं और इस तरह कोविड-19 के मामलों में कमी आ सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात…2दिसंबर 2022 आज का पंचांग, आज का इतिहास और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल

उन्होंने कहा कि इस तरह के कर्फ्यू लगाने से तो अच्छा है कि सरकार कर्फ्यू न लगाएं क्योंकि इस कर्फ्यू का कोई भी असर बाजारों में दिखता हुआ नजर नहीं आ रहा है बाजारों में लोग आ रहे हैं और सामान लेकर जा भी रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here