More
    Homeराजनीतिरामपुर बुशहर…#सीपीएम ने केंद्र व राज्य के खिलाफ खोला मोर्चा, जोरदार प्रदर्शन

    रामपुर बुशहर…#सीपीएम ने केंद्र व राज्य के खिलाफ खोला मोर्चा, जोरदार प्रदर्शन

    spot_imgspot_img

    रामपुर बुशहर। सीपीएम कमेटी रामपुर ने पेट्रोल, डीज़ल,रसोई गैस व आम जीवन में इस्तेमाल होने वाली बस्तुओं के दामों में हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ आज रामपुर में प्रदर्शन किया।


    इस इस दौरान लोगों को सम्बोधित करते हुए सीपीएम लोकल कमेटी सचिव कुलदीप सिंह, दिनेश मेहता, रणजीत ठाकुर, प्रेम चौहान,रमन शर्मा, राहुल, बिहारी सेवगी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार इस देश के अंदर नवउदारवादी नीतियों को तेजी से लागू करके अपने पूंजीपति दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए सार्वजनिक सम्पतियों को कौड़ियों के भाव बेच रही है।

    यही नहीं देश की उत्पादन करने वाली शक्तियों किसान,मजदूर व खेत मजदूर पूंजीपतियों के मुनाफे में बाधा उत्पन्न न करें इसके लिए 3 काले किसान विरोधी कानून, 4 मजदूर विरोधी श्रम कोड व बिजली बिल 2020 के कानून को लाया गया।


    जहां एक तरफ कोरोना महामारी के चलते देश की जनता परेशानियों का सामना कर रही है और इन परिस्थितियों में सरकार को आम जनता के दुख तखलीफ़ को कम करने के लिए राहत देने की आवश्यकता थी। ऐसे में पेट्रोल, डीज़ल व रसोई गैस के दाम बढ़ाने से आम जनता महँगाई का बोझ डाला जा रहा है।

    महँगाई लगातार बढ़ रही है पिछले छह दिनों से लगातार पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। पिछले दस महीनों के दौरान, इन कीमतों में 20 रुपये से अधिक की वृद्धि हुई है। पेट्रोल की कीमत लगभग 110 रुपये लीटर और डीजल 100रुपये लीटर से अधिक हो गया है।जिससे महँगाई लगातार वृद्धि होने से हमारे देश की आम जनता को अपनी आजीविका का निर्वहन करना कठिन हो रहा है।
    रामपुर बुशहर…#उप चुनाव : नरैन जोन के भाजपा पदाधिकारियों की बैठक में बनी यह रणनीति

    पेट्रोल और डीज़ल के दाम में बढ़ोतरी से परिवहन की उच्च लागत होने के कारण सभी आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में भारी वृद्धि हुई है। खाना पकाने का तेल 250 रुपये से अधिक हो गया है, फल, सब्जियां और दूध आदि के दाम अत्यधिक बढ़ गए हैं और आम जनता के पंहुच से दूर हो रहे हैं । इस साल के नौ महीनों में, रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में 205 रुपये की वृद्धि हुई। आज एक सिलेंडर की कीमत 1,000. रुपये से अधिक हो गई है।

    लालकुआं… #अपराध : नाम कंटर व शूटर, करते थे राह चलते झपटमारी, पकड़े गए, तीसरे की तलाश

    वक्ताओं ने कहा कि इस देश में जो लोग पहले से ही कोरोना महामारी और देश में लगे लॉकडाउन की बजह से आर्थिक हानि झेल रहे हैं। किसान ही नहीं अधिकांश शहरवासी भी कर्ज में डूबे हुए हैं। महामारी के कारण पहले ही हमारे देश में बेरोजगारी, आय में गिरावट और गरीबी से पहले ही त्रस्त है बढ़ती महंगाई ने आम जनता को और अधिक प्रभावित किया है।

    ब्रेकिंग…सितारगंज:सामने आया कोतवाली पुलिस के जवान का खौफनाक रूप, हो गया सस्पेंड

    सीपीएम लोकल कमेटी रामपुर ने मांग की है कि केंद्र सरकार को पेट्रोलियम उत्पादों पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क तुरंत वापस लिया जाए, महंगाई पर तुरंत रोक लगाई जाए, सबको 10 किलो प्रति व्यक्ति मुफ्त राशन दिया जाए,महामारी के चलते लोगों को हुए आर्थिक नुकसान के लिए मुआवजा दिया जाए , प्रत्येक परिवार को 7500 रु प्रतिमाह आर्थिक मदद दी जाए, मनरेगा वर्कर को 700 रुपये दिहाड़ी व 200 दिन का रोजगार दिया जाए इस प्रदर्शन में अमित, दयाल, ललिता, मंजू, मनिता, योगेंद्र, ललित, रजनी आदि उपस्थित रहे।

    India : Covid update
    39,543,328
    Total confirmed cases
    Updated on January 25, 2022 1:07 am
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :

    रामपुर बुशहर…#सीपीएम ने केंद्र व राज्य के खिलाफ खोला मोर्चा, जोरदार प्रदर्शन

    रामपुर बुशहर। सीपीएम कमेटी रामपुर ने पेट्रोल, डीज़ल,रसोई गैस व आम जीवन में इस्तेमाल होने वाली बस्तुओं के दामों में हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ आज रामपुर में प्रदर्शन किया।


    इस इस दौरान लोगों को सम्बोधित करते हुए सीपीएम लोकल कमेटी सचिव कुलदीप सिंह, दिनेश मेहता, रणजीत ठाकुर, प्रेम चौहान,रमन शर्मा, राहुल, बिहारी सेवगी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार इस देश के अंदर नवउदारवादी नीतियों को तेजी से लागू करके अपने पूंजीपति दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए सार्वजनिक सम्पतियों को कौड़ियों के भाव बेच रही है।

    यही नहीं देश की उत्पादन करने वाली शक्तियों किसान,मजदूर व खेत मजदूर पूंजीपतियों के मुनाफे में बाधा उत्पन्न न करें इसके लिए 3 काले किसान विरोधी कानून, 4 मजदूर विरोधी श्रम कोड व बिजली बिल 2020 के कानून को लाया गया।


    जहां एक तरफ कोरोना महामारी के चलते देश की जनता परेशानियों का सामना कर रही है और इन परिस्थितियों में सरकार को आम जनता के दुख तखलीफ़ को कम करने के लिए राहत देने की आवश्यकता थी। ऐसे में पेट्रोल, डीज़ल व रसोई गैस के दाम बढ़ाने से आम जनता महँगाई का बोझ डाला जा रहा है।

    महँगाई लगातार बढ़ रही है पिछले छह दिनों से लगातार पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। पिछले दस महीनों के दौरान, इन कीमतों में 20 रुपये से अधिक की वृद्धि हुई है। पेट्रोल की कीमत लगभग 110 रुपये लीटर और डीजल 100रुपये लीटर से अधिक हो गया है।जिससे महँगाई लगातार वृद्धि होने से हमारे देश की आम जनता को अपनी आजीविका का निर्वहन करना कठिन हो रहा है।
    रामपुर बुशहर…#उप चुनाव : नरैन जोन के भाजपा पदाधिकारियों की बैठक में बनी यह रणनीति

    पेट्रोल और डीज़ल के दाम में बढ़ोतरी से परिवहन की उच्च लागत होने के कारण सभी आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में भारी वृद्धि हुई है। खाना पकाने का तेल 250 रुपये से अधिक हो गया है, फल, सब्जियां और दूध आदि के दाम अत्यधिक बढ़ गए हैं और आम जनता के पंहुच से दूर हो रहे हैं । इस साल के नौ महीनों में, रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में 205 रुपये की वृद्धि हुई। आज एक सिलेंडर की कीमत 1,000. रुपये से अधिक हो गई है।

    लालकुआं… #अपराध : नाम कंटर व शूटर, करते थे राह चलते झपटमारी, पकड़े गए, तीसरे की तलाश

    वक्ताओं ने कहा कि इस देश में जो लोग पहले से ही कोरोना महामारी और देश में लगे लॉकडाउन की बजह से आर्थिक हानि झेल रहे हैं। किसान ही नहीं अधिकांश शहरवासी भी कर्ज में डूबे हुए हैं। महामारी के कारण पहले ही हमारे देश में बेरोजगारी, आय में गिरावट और गरीबी से पहले ही त्रस्त है बढ़ती महंगाई ने आम जनता को और अधिक प्रभावित किया है।

    ब्रेकिंग…सितारगंज:सामने आया कोतवाली पुलिस के जवान का खौफनाक रूप, हो गया सस्पेंड

    सीपीएम लोकल कमेटी रामपुर ने मांग की है कि केंद्र सरकार को पेट्रोलियम उत्पादों पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क तुरंत वापस लिया जाए, महंगाई पर तुरंत रोक लगाई जाए, सबको 10 किलो प्रति व्यक्ति मुफ्त राशन दिया जाए,महामारी के चलते लोगों को हुए आर्थिक नुकसान के लिए मुआवजा दिया जाए , प्रत्येक परिवार को 7500 रु प्रतिमाह आर्थिक मदद दी जाए, मनरेगा वर्कर को 700 रुपये दिहाड़ी व 200 दिन का रोजगार दिया जाए इस प्रदर्शन में अमित, दयाल, ललिता, मंजू, मनिता, योगेंद्र, ललित, रजनी आदि उपस्थित रहे।

    India : Covid update
    39,543,328
    Total confirmed cases
    Updated on January 25, 2022 1:07 am
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :