हल्द्वानी….सावधान : आटो में घूम रहा महिला झपटमार गिरोह, बच्ची के सहयोग से ऐसे लूट रहा अकेली महिलाओं को

0

हल्द्वानी। त्योहार सीजन आते ही हल्द्वानी में महिलाओं का एक ऐसा झपटमार गिरोह सक्रिय होग गया है। जो अकेली महिलाओं को ही ही अपने निशाने पर ले रहा है। मुखानी थाना क्षेत्र में एक ही दिन में इस गिरोह का शिकार बनीं अलग अलग दो महिलाओं ने अपनी शिकायते दर्ज कराई। हैं। पहली घटना 30 सितंबर की है तो दूसरी तीन अक्टूबर की। दोनों ही घटनाओं में पहली समानता यह है कि झपटमार गिरोह ने आटो की सवारी कर रही अकेली महिला को ही अपना निशानी बनाया। दूसरी यह कि आभूषण चुराने में उन्होंने दोनों घटनाओं में बच्ची का सहयोग लिया, तीसरी यह कि शिकार का ध्यान बंटाने के लिए उन्होंने एक ही तरीके का प्रयोग किया और चौथी यह कि दोनों ही मामलों में गले से सोने की चेन उड़ाई गई।


पहली घटना में एक 71 वर्षीय वृद्धा गिरोह का शिकार बनी। पीड़ित वृद्धा देवी शर्मा ने पुलिस को बताया है कि 30 सितंबर को वे आदर्श नगर स्थित अपने घर से डेंटिस्ट के पास जाने को निकली थीं। उन्होंने बाल भारती से ई रिक्शा लिया। लालडांठ से चार महिलाओं और उनके साथ लगभग आठ साल की बच्ची भी ई रिक्शे में बैठी। उक्त सभी महिलाओं कुछ ऐसे बैठीं कि देवी शर्मा बीच में फंस गईं।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात… 3 दिसंबर 2022 : आज का पंचांग, आज का इतिहास और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल इतिहास

इसके बाद बच्ची ने अपना काम शुरू कर दिया। बच्ची अपने जूते से इेवी शर्मा के पैर पर लगातार ठोकरें मारती रही। वृद्धा देवी शर्मा के पैर में लगातार हो रहे वार से खून आने लगा और अपना पैर बच्ची से बचाने के चक्कर में उन्का ध्यान बंट गया। इस बीच गैस गोदाम चौराहा आया और देवी शर्मा रिक्शे से उतर गई। आगे जा कर उनका हाथ अपने गले में पड़ी चेन तक गया तो वे भौचक्क रह गई। उनके गले में पड़ी दस ग्राम की सोने की चेन गायब थी। इस घटना के बाद उनकी तबीयत खराब हो गई और कल जब उनकी तबीयत सुधरी तो वे मुखानी पुलिस थाने में रिपोर्ट लिए थाने पहुंच गई।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं…मां की डांट से क्षुब्ध किशोर दो दोस्तों के साथ घर से भागा, पुलिस ने गूलरभोज से किया बरामद


दूसरी घटना भी हूबहू इससे मिलती जुलती है। इस घटना में झपटमार महिला गिरोह की शिकार बनीं कुसुमखेड़ा के एकता विहार निवासी विमला रावत ने बताया कि कि 3 अक्टूबर को आटो से कुसुमखेडा चौराहे से कालाढुंगी चौराहा को जा रही थी, उस समय ऑटो में अन्य कोई सवारी नहीं थी। पीलीकोठी चौराहा से ऑटो में तीन महिला और एक लडकी बैठ गई।

यह भी पढ़ें 👉  सितारगंज ब्रेकिंग : तहसील कर्मी की बाइक चिकित्सालय के बाहर से उड़ा ले गए चोर, बैग में रखे थे सरकारी डाक व दर्जनों चेक

इसके बाद लड़की ने ठीक वहीं प्रकिया शुरू कर दी जो देवी शर्मा के साथ 30 सितंबर को हुई थी। लड़की के पैरों के आघात से विमला रावत का ध्यान अपने पैरों की ओर लग गया और इसी बीच लड़की के साथ की महिलाओं ने उनके गले से कुल 26 ग्राम की सोने की चेन उड़ा ली। घर पहुंच कर विमला रावत को गले से चेन उड़ाए जाने का अहसास हुआ। उन्होंने कल मुखानी पुलिस थाने में जाकर अपने साथ हुई घटना की तहरीर दी।


पुलिस ने दोनों पीड़िताओं की तहरीर पर अलग अलग मुकदमें दर्ज करके शातिर चोरनियों के इस गिरोह की तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here