हिमाचल…. जवाहर नवोदय विद्यालय, डुंगरी में हाउस टीचर ने पीटे 15 विद्यार्थी, अभिभावकों ने किया हंगामा

0
Ad

हमीरपुर। जवाहर नवोदय विद्यालय जेएनवी डुंगरी, हमीरपुर में एक हाउस टीचर ने छात्रावास में 15 विद्यार्थियों की पिटाई कर दी। मामले की जानकारी जब अभिभावकों को लगी तो उन्होंने स्कूल पहुंचकर हंगामा कर दिया।


शिकायत मिलने पर स्कूल प्रशासन ने शिक्षक को ड्यूटी से हटाकर जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर 11 अगस्त तक रिपोर्ट मांगी है। प्रशासन ने अन्य शिक्षक को छात्रावास का जिम्मा सौंप दिया है। विद्यार्थियों की पिटाई करने के आरोप में ड्यूटी से हटाए गए शिक्षक प्रकाश चंद का कहना है कि शुक्रवार रात करीब 10ः30 बजे जेएनवी के उदयगिरी छात्रावास से जोर.जोर से चिल्लाने की आवाजें आ रही थीं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड… अपराध: तमंचा दिखाकर जबरन बाइक पर बैठाया, छात्रा ने चलती बाइक से लगाई छलांग

कुछ विद्यार्थी उनके पास आए और बताया कि छात्रावास में बच्चे एक.दूसरे को चप्पलों से पीट रहे हैं। इस पर उन्होंने छात्रावास में जाकर विद्यार्थियों की हल्की पिटाई कर दी।


वहीं, अभिभावकों का कहना है कि विद्यार्थियों के शरीर पर चोटों के निशान दिख रहे हैं। विद्यार्थियों ने शनिवार सुबह इसकी जानकारी अभिभावकों को दी तो अभिभावक स्कूल पहुंच गए और बच्चों की पिटाई के विरोध में जमकर हंगामा किया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…हादसाः अज्ञात वाहन की टक्कर से बाइक सवार की मौत

स्कूल की कार्यकारी प्रधानाचार्य निशी गोयल ने हस्तक्षेप करते हुए उन्हें शांत करवाया। अभिभावकों और पीड़ित विद्यार्थियों से बात करने के बाद संबंधित छात्रावास के हाउस टीचर को ड्यूटी से हटाकर उनकी जगह राहुल कुमार की ड्यूटी हॉस्टल में लगाई गई।

साथ ही तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर उन्हें जांच का जिम्मा दिया गया। इसके बाद अभिभावक शांत हुए। कुछ शिक्षकों का कहना है कि हाउस मास्टर अपनी ड्यूटी ईमानदारी से निभाते हैं। गत दिवस उनके जन्मदिवस पर छात्रावास के सभी विद्यार्थियों को उन्होंने मिठाई भी बांटी थी।

यह भी पढ़ें 👉  शाबाश… टीचर की पिटाई से बच्चे की मौत के बाद इस कांग्रेसी विधायक ने दिया इस्तीफा


विद्यार्थियों की पिटाई के मामले में अभिभावकों ने स्कूल में पहुंचकर शिकायत दी है। संबंधित हाउस टीचर को छात्रावास ड्यूटी से हटा दिया है। हाउस टीचर ने बताया कि कुछ विद्यार्थी देर रात छात्रावास में एक.दूसरे को चप्पलें मार रहे थे और हुड़दंग मचा रहे थे। इसके चलते उन्हें शांत करने के लिए हलकी पिटाई की है। कमेटी इसकी जांच करेगी।
-निशी गोयल, कार्यकारी प्रधानाचार्य, जेएनवी डुंगरी

Ad
Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here