हल्द्वानी न्यूज : देर से ही सही निजी अस्पतालों की दरों पर जागा तो सही स्वास्थ्य विभाग, ये रहेंगी दरें

0

हल्द्वानी। मुख्य जिला चिकित्साअधिकारी नैनीताल ने निजी अस्पतालों के लिए कोविड मरीजों के भर्ती किए जाने की दरें तय कर दी है। आयुष्मान कार्ड धारकों के लिए राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने इलाज की दरें निर्धारित कर दी हैं।
सीएमओ डॉ. भागीरथी जोशी ने निजी अस्पतालों के प्रबंधकों एक पत्र भी लिखा है जिसमें कहा गया है कि उनके संज्ञान में आ रहा है कि निजर संस्थानों में शासन की ओर से निर्धारित दरों के अतिरिक्त शुल्क वसूला जा रहा है। साथ ही अनावश्यक जांचें कराई जा रही हैं। साथ ही ऐसी ब्रांडेड दवाएं लिखी जा रही हैं जो सामान्य व्यक्ति की पहुंच से दूर है। अत्यंत गंभीर कोविड मरीजों के इलाज में प्रयोग होने वाली दवाएं रेमडेसिविर, फेवीपीरावीर और टोसिलिजुमैब का अगर प्रयोग की जाती है तो वास्तविक दर के हिसाब से मरीज से अतिरिक्त धनराशि ले सकते हैं।
पत्र के मुताबिक एनएबीएच से मान्यता प्राप्त अस्पतालों में आइसोलेशन बेड, ऑक्सीजन और लाइफ सपोर्टिव केयर के साथ आठ हजार रुपये प्रतिदिन लेंगे। इसमें पीपीई किट के 12 सौ रुपये भी शामिल हैं। आईसीयू बिना वेंटीलेटर के 12 हजार रुपये प्रतिदिन लेंगे। आईसीयू वेंटीलेटर के साथ 14 हजार 400 रुपये लेंगे। इसमें 12 सौ रुपये की पीपीई किट की कीमत शामिल हैं। पीपीई किट के लिए अलग से धनराशि नहीं ली जाएगी।
एनएबीएच की गैर मान्यता वाले अस्प्ताल आइसोलेशन बेड, ऑक्सीजन और लाइफ सपोर्टिव केयर के साथ 6,400 रुपये लेंगे। पीपीई किट की धनराशि इसमें जुड़ी है।


आईसीयू बिना वेंटीलेटर के 10, 400 रुपये और आईसीय वेंटीलेटर के साथ 12,000 हजार रुपये प्रतिदिन के लेंगे। आयुष्मान योजना के तहत एनएबीएच की गैर मान्यता वाले अस्पताल आइसोलेशन बेड, ऑक्सीजन और सपोर्टिव केयर के साथ 6400 रुपये लेंगे। बिना वेंटीलेटर के आईसीयू 10,400 रुपये और वेंटीलेटर के साथ आईसीयू के 14,400 रुपये प्रतिदिन लेंगे।
एनएबीएच की मान्यता वाले अस्पतालों के लिए उक्त दरों के साथ ही मानकों के अनुसार अतिरिक्त इंसेंटिव अनुमन्य होगा।
एसीएमओ डॉ. रश्मि पंत ने बताया कि निजी अस्पतालों के लिए कोविड मरीज की इलाज की दरें तय कर दी गई हैं। दरों को प्रत्येक निजी अस्पताल में चस्पा किया जाएगा। मरीज और उनके तीमारदारों को जानकारी मिल सकेगी कि किसी अस्पताल में इलाज की क्या दर हैं। साथ ही वेंटीलेटर के साथ आईसीयू और बिना वेंटीलेटर के आईसीयू आदि की दरों की जानकारी भी मरीज एवं तीमारदार को मिल जाएगी। दरें चस्पा कराने का काम एक-दो दिन में शुरू करा दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल…वाह जी : माता—पिता का आभार जताने के लिए युवक ने चुना अनोखा तरीका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here