More
    Homeउत्तराखंडबागेश्वर ब्रेकिंग: दूल्हे बेटे को घोड़ी पर बिठा रही मां के दिल...

    बागेश्वर ब्रेकिंग: दूल्हे बेटे को घोड़ी पर बिठा रही मां के दिल ने दे दिया धोखा, बारात की खुशियों में छा गया मातम

    spot_imgspot_imgspot_img

    बागेश्वर। कपकोट में अपने बेटे दुल्हन लाने के लिए घोड़ी पर बिठाने की तैयारी कर रही मां की हृदयगति रूकने से मौत हो गई। डाक्टर बेटे ने ही सबसे पहले उनकी नब्ज जांची इसके बाद उन्हें चिकित्सालय भी ले जाया गया लेकिन उनकी प्राण वायु वापस नहीं आ सकी। घटना के बाद खुशी के मौहल में मातम पसर गया। मिली जानकारी के अनुसार कपकोट बमसेरा ऐठान से डाक्टर बृजेश की शादी बेरीनाग की युवती से तय हुई थी। सभी रस्म रिवाज चल रहे थे। दूल्हे की मां आशा देवी शिक्षिका हैं और उन्होंने घोड़ी परबैठने से पहपले अपने लाड़ले की परख की रस्म निभानी शुरू की। अचानक उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वेजमीन पर गिर गई। डा. बृजेश ने तुरंत मां की नब्ज जांची और वे समझ गए कि मां मेडिकल मदद नहीं मिली तो उनकी जान को खतरा है। उन्होंने तुरंत मां को चिकित्सालय पहुंचाया लेकिन तबतक आशा देवी के प्राण पखेरू उड़ चुके थे। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कपकोट डाक्टरों ने उन्हें मृत्यु घोषित कर दिया।

    India : Covid update
    43,420,608
    Total confirmed cases
    Updated on June 28, 2022 2:08 pm
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :

    बागेश्वर ब्रेकिंग: दूल्हे बेटे को घोड़ी पर बिठा रही मां के दिल ने दे दिया धोखा, बारात की खुशियों में छा गया मातम

    बागेश्वर। कपकोट में अपने बेटे दुल्हन लाने के लिए घोड़ी पर बिठाने की तैयारी कर रही मां की हृदयगति रूकने से मौत हो गई। डाक्टर बेटे ने ही सबसे पहले उनकी नब्ज जांची इसके बाद उन्हें चिकित्सालय भी ले जाया गया लेकिन उनकी प्राण वायु वापस नहीं आ सकी। घटना के बाद खुशी के मौहल में मातम पसर गया। मिली जानकारी के अनुसार कपकोट बमसेरा ऐठान से डाक्टर बृजेश की शादी बेरीनाग की युवती से तय हुई थी। सभी रस्म रिवाज चल रहे थे। दूल्हे की मां आशा देवी शिक्षिका हैं और उन्होंने घोड़ी परबैठने से पहपले अपने लाड़ले की परख की रस्म निभानी शुरू की। अचानक उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वेजमीन पर गिर गई। डा. बृजेश ने तुरंत मां की नब्ज जांची और वे समझ गए कि मां मेडिकल मदद नहीं मिली तो उनकी जान को खतरा है। उन्होंने तुरंत मां को चिकित्सालय पहुंचाया लेकिन तबतक आशा देवी के प्राण पखेरू उड़ चुके थे। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कपकोट डाक्टरों ने उन्हें मृत्यु घोषित कर दिया।

    India : Covid update
    43,420,608
    Total confirmed cases
    Updated on June 28, 2022 2:08 pm
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :