हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ में खुली अनाज मंडी, विधायक ने किया शुभारंभ

0

नालागढ़। अब हिमाचल प्रदेश के किसानों को अपनी गेहूं व धान की फसल को बेचने के लिए बाहरी राज्यों का रुख नहीं करना पड़ेगा क्योंकि विधायक लखविंदर सिंह राणा द्वारा विधानसभा में नालागढ़ में अनाज मंडी खोलने की मांग रखी गई थी जो अब पूरी हो गई है आपको बता दें कि नालागढ़ के विधायक लखविंदर सिंह राणा ने अनाज मंडी में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत कर नई अनाज मंडी का शुभारंभ किया। साथ ही उन्होंने क्षेत्र के किसानों से अपील की है कि वह अब पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ की मंडियों में न जाकर अपनी गेहूं की फसल को नालागढ़ में ही बेच सकते हैं साथ ही उन्होंने कहा कि शनिवार से अनाज मंडी नालागढ़ में गेहूं की फसल की खरीद शुरू हो चुकी है और क्षेत्र के किसान अपनी फसल लेकर अनाज मंडी नालागढ़ में बेच सकते हैं।

अनाज मंडी के शुभारंभ समारोह पर मीडिया से बातचीत करते हुए लखविंदर सिंह राणा ने कहा है कि बद्दी बरोटीवाला नालागढ़ के किसानों को अपनी फसलें बेचने के लिए पंजाब के रोपर घनौली और हरियाणा का रुख करना पड़ता था जिसके चलते वहां के लोग क्षेत्र के किसानों से गेहूं व धान की फसल खरीदने में आनाकानी करते थे उन्होंने कहा कि इस बारे में उन्होंने विधानसभा में भी अनाज मंडी खोलने की मांग की थी जिसको लेकर सरकार ने उनकी इस मांग को पूरा कर लिया है और अब नालागढ़ क्षेत्र में भी अनाज मंडी खुल गई है और अब यहां के किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए बाहरी राज्यों का रुख नहीं करना पड़ेगा यहां के किसान अब अपनी फसलें नालागढ़ अनाज मंडी में बेच सकते हैं उन्होंने किसानों को बधाई देते हुए कहा है कि सभी किसान अपनी अपनी फैसले लेकर नालागढ़ आए और अनाज मंडी में बेचे क्योंकि शनिवार से गेहूं की फसल की खरीद शुरू हो चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात… 3 दिसंबर 2022 : आज का पंचांग, आज का इतिहास और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल इतिहास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here