ब्रेकिंग न्यूज : पंजाब के महाधिवक्ता की बोगी पर हमला, लॉरेंस के खिलाफ पैरवी कर दिल्ली से लौट रहे थे

0
Ad

चंडीगढ़। गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई मामले में सुप्रीम कोर्ट से पैरवी कर लौट रहे पंजाब के महाधिवक्ता (एजी) अनमोल रतन सिद्धू की बोगी पर हमला करने का मामला सामने आया है। वह कालका शताब्दी एक्सप्रेस से चंडीगढ़ लौट रहे थे। जिस बोगी में वह सवार थे, उस पर मंगलवार शाम साढ़े छह बजे पानीपत रेलवे स्टेशन के पास हमला हुआ है।


सिद्धू ने बताया कि लॉरेंस बिश्नोई के मामले में पंजाब सरकार की ओर से पैरवी करने वह दिल्ली आए थे। दिल्ली में सोमवार को पैरवी के बाद मंगलवार को वह चंडीगढ़ वापस आने के लिए शताब्दी एक्सप्रेस में सवार हुए थे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी… जिला पंचायत की पूर्व अध्यक्ष सुमित्रा प्रसाद ने "हाथ" छोड़ पकड़ा "कमल", कांग्रेस को लगा बड़ा झटका

अल्मोड़ा…सामाजिक कार्यकर्ता संजय पांडे ने सीएमओ से भेंट कर गिनाईं सरकारी चिकित्सालयों की समस्याएं, मिला यह आश्वासन

जैसे ही गाड़ी पानीपत के करीब पहुंची तो अज्ञात लोगों ने उन्हें निशाना बनाते हुए गाड़ी के शीशे पर हमला कर दिया। इससे शीशे टूट गए।

उत्तराखंड …लापता नाबालिगा का पुलिस को आया फोन, बोली— अपहरण करके ले जा रहा कोई


हमला होने के बाद उन्होंने तत्काल इसकी जानकारी रेलवे पुलिस को दे दी। अब रेलवे पुलिस इस मामले में जांच करेगी कि हमला पत्थर से हुआ है या हथियार से किया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…..राजनीति: साहू बोले- देश भक्ति का सार्टिफिकेट न बांट कर देशवासियों की समस्याएं दूर करें भाजपा नेता

उत्तराखंड…ओफ: दो दिन से लापता दो बच्चों की मां का शव जंगल में पेड़ से लटका मिला

सोमवार को पंजाब के महाधिवक्ता अनमोल रतन सिद्धू सुप्रीम कोर्ट मे पंजाब की तरफ से सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड मामले की सीबीआई जांच की मांग को लेकर दायर याचिका और लॉरेंस बिश्नोई के ट्रांजिट रिमांड के खिलाफ दायर याचिका पर पैरवी की थी। एजी ने इस संबंध में पंजाब के डीजीपी को भी शिकायत दी है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड...ब्रेकिंग: अवैध उपखनिज ले जाते युवक वन विभाग की चेकपोस्ट पर वन कर्मियों से भिड़े

उत्तराखंड… सोमवार से लापता युवक का शव मंगल को पावर हाउस के इंटैक से बरामद


गांव कोहंड के पास रेलवे ट्रैक पर खेतों में से ट्रेन पर पथराव किया गया है। मौके पर जांच चल रही है। जब टीम मौके पर पहुंची, वहां कुछ नहीं मिला। जांच के बाद पता चलेगा कि शरारती तत्वों ने पथराव किया या फिर लूट के मकसद से ट्रेन रोकने के लिए पथराव किया गया। -अमित कुमार, प्रभारी, आरपीएफ पानीपत।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here