यहां कोरोना कर्फ्यू तोड़ने पर राम नाम लिखने की सजा!

0
Ad

सतना। कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए कोराना कर्फ्यू और जनता कर्फ्यू का सहारा लिया जा रहा है। मध्य प्रदेश के भी बड़े हिस्से में कोरोना को रोकने के लिए कर्फ्यू लगाया गया है। कोरोना कर्फ्यू तोड़ने वालों पर आर्थिक दंड लगाए जा रहे हैं। साथ ही, खुली जेल भी भेजा जा रहा है, मगर सतना जिले में अनोखा दंड दिया जा रहा है। यहां जो लोग कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन कर रहे हैं, उन्हें राम नाम लिखने की सजा दी जा रही है।

Ad

कोरोना कर्फ्यू को रोकने के लिए प्रशासन और पुलिस सख्त है। कई स्थानों से तो ऐसी तस्वीरें आ रही हैं जो लोगों को परेशान करने वाली हैं, मगर सतना जिले के केालगवां में तो पुलिस ने अनोखा तरीका अपनाया है। यहां जो लोग भी कोरोना कर्फ्यू को तोड़ रहे हैं या बेवजह घूमते पाए जा रहे हैं, उन्हें सजा के तौर पर राम नाम लिखना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड…. खुलासा: अंकिता भंडारी हत्याकांड में भाजपा नेता के बेटे समेत तीन गिरफ्तार, कस्टमर से शारीरिक संबंध बनाने का दबाव बनाता था मालिक, भीड़ ने हत्यारोपियों को पीटा, पढ़े पूरी कहानी

कोलगवां थाने के उपनिरीक्षक संतोष सिंह ने बताया है कि सिंधी कैंप पॉइंट पर जो भी अनावश्यक रूप से घूमते पाए जा रहे हैं, उन्हें रोका जाता है और उनसे राम नाम लिखवाया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  नालागढ़… दून भाजपा को चौधरी रामकुमार ने दिया करारा झटका, महिला मोर्चा नेत्री माया रानी कांग्रेस में शामिल

बताया गया है कि यह सजा सिर्फ हिंदू धर्म से जुड़े लोगों के लिए है, जबकि अन्य लोगांे से सजा के तौर पर उठक-बैठक लगवाई जाती है।

सिंह का कहना है कि अनावश्यक घूमने वालों से दो-चार पेज राम लिखवाने के पीछे मकसद यह है कि उनको भगवान सद्बुद्धि दें, सुरक्षित रहें और घर पर रहें।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात …आज का पंचांग, आज का इतिहास, हैफा दिवस क्या है और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल

कोलगवां थाने के प्रभारी वी.पी. सिंह चौहान का कहना है कि सब इंस्पेक्टर संतोष सिंह की जिस प्वाइंट पर ड्यूटी है, सिर्फ वहीं राम नाम लिखवाया जा रहा है। उस क्षेत्र में एक धर्मशाला है और धर्मशाला वालों ने यह कॉपी दे दी है, उसी पर सब इंस्पेक्टर यह लिखवाते हैं।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here