देहरादून ब्रेकिंग : आठ घंटे से ज्यादा चला रेस्कयू आपरेशन, तब कहीं जाकर पकड़ में आई नाले के पाइप में जा छिपी गुलदार, ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

0

देहरादून। रायपुर विकासखंड के नथुवावाला गांव में पिछले कई दिनों से पालतू जानवरों को अपना शिकार बनाने वाली मादा गुलदार को वन विभाग की रेस्क्यू टीम ने आठ घंटे से ज्यादा लंबे चले आपरेशन के बाद रेस्क्यू कर लिया। गुलदार की उम्र लगभग डेढ वर्ष बताई जा रही है। पिछले कई दिनों से वह ग्रामीणों के पशुओं को शिकार बना रही थी। लेकिन ग्रामीणों की लाख पहरेदारी के बावजूद वह पकड़ में नहीं आ रही थी। इस कार्य के लिए सीसीटीवी की भी मदद ली गई।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…आंगनबाड़ी केन्द्र स्कूलों और पंचायत भवनों में शिफ्ट होंगे: रेखा आर्या

सत्यमेव जयते.कॉम की खबरें अपने मोबाइल पर पाने के नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/FRtyqY0WRlHKZxyPPM4AkI

आज ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी कि गुलदार गांव की एक भूमिगत नाली में जा घुसी है। इसके बाद वन विभाग के रेंजर राकेश नेगी व वीडीजोशी की देखरेख में रेस्क्यू टीम प्रभारी रवि जोशी व उनकी टीम के सदस्य जितेंद्र बिष्ट, हरशद आलम, सुदर्शन पंवार , वन दरोगा गौतम क्षेत्री, दर्शन सिंह व मगन आदि ने गुलदार का रेस्क्यू आपरेशन शुरू किया।

यह भी पढ़ें 👉  पिथौरागढ़ : नाना ने दो साल के नाती को बड़ियाठ से काट डाला, माँने घर में छिपकर बचाई जान, दादा को किया घायल


लेकिन गुलदार नाली के पाईप में काफी अंदर जा छिपी थी। इसलिए उसे बाहर निकाला जाना कठिन हो रहा था। तय किया गया कि एक तरफ से जेसीबी की मदद से नाले के पाइप को तोड़ा जाए और दूसरी ओर पिंजरा लगाया जाए, ताकि गुलदार उसमें जा फंसे, शाम चार बजे के आसपास टीम के प्रयास रंग लाए और गुलदार पिंजरे में फंस गई। रवि जोशी ने बताया कि मादा गुलदार की उम्र लगभग डेढ साल होगी। उसे आज रात आब्र्जवेशन में रखा जाएगा, इसके बाद उसे कल जंगल में छोड़ा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं…ऐसी भी क्या मानवता : मजबूर समझ कर बाइक पर लिफ्ट दी, फिर चलाने को सौंप दी और फिर…

नथुवावाला के ग्रामीणों ने गुलदार के पकड़े जाने पर राहत की सांस ली है और वन विभाग का आभार जताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here