बागेश्वर न्यूज : काश! विभागों का मॉक​ ड्रिल जैसा सामंजस्य दिखता जंगलों की असली आग बुझाने में, तो अब तक करोड़ों की संपत्ति न होती खाक

0
Ad

सुष्मिता थापा

Ad

बागेश्वर। जिले की चारों तहसीलों में जंगलों में लगातार बढ़ रही आगजनी की घटनाओं की रोकथाम के लिए शनिवार को वनाग्नि बुझाने का मॉकड्रिल किया गया। यह अलग बात है कि कई दिनों से बागेश्वर जिले के जंगल धूं—धूं कर जल रहे हैं लेकिन विभागों के बीच मॉक ड्रिल जैसा सामंजस्य अभी तक कहीं दिखाई नहीं पड़ा। स्वास्थ्य विभाग से लेकर वन, आपदा प्रबंधन, पुलिस, प्रशासन व अग्निशमन विभाग की टीमों ने संयुक्त रूप सेआग पर काबू पाया।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…मुखानी क्रियाशाला का 20वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया, कई लोगों का सम्मान

आज 1 बजकर 5 मिनट पर जनपद के चारों तहसीलों के अंतर्गत बागेश्वर में छतीना, कपकोट में जसौली, कांडा में लीसा डिपो क्षेत्र तथा गरुड़ में वजयुला के एफसीआई गोदाम के पास आग लगने की सूचना प्राप्त हुई।

प्रदेश की ताजा खबरों के लिए जुड़े व्हाट्स एप ग्रुप से 👉 Click Now 👈

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी…मुखानी क्रियाशाला का 20वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया, कई लोगों का सम्मान

बागेश्वर तहसील अंतर्गत सूचना मिलने के बाद अग्निशमन विभाग, जिला प्रशासन, आपातकालीन वाहन और पुलिस प्रशासन मौके पर पहले पहुंचा। सूचना के अनुसार छतीना क्षेत्र में जंगल मे आग लगने से पेड़ गिरने के कारण सड़क मार्ग अवरुद्ध होने के कारण यातायात व्यवस्था प्रभावित हुई तथा जंगल की आग आबादी क्षेत्र की ओर बढ़ रही थी। टीम तुरंत मौके पर पहुंची और एक व्यक्ति का मौके पर उपचार किया गया तथा बाद में उसे जिला अस्पताल भेजा गया। आग से एक बकरी मामूली रूप से झुलसी। वनाग्नि से एक हेक्टेयर जंगल जल गया। मौके पर पहुंचे सभी विभाग के कर्मियों ने अग्नि शमन दल के साथ मिलकर आग पर काबू पाया और मौके पर पहुंचे स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक ने घायल की जांच कर एम्बुलेंस द्वारा ज़िला अस्पताल भेजा।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here