More
    Homeउत्तराखंडलालकुआं…#दुम्का के दुश्मन: इस बार टिकट से पहले ही नवीन दुम्का को...

    लालकुआं…#दुम्का के दुश्मन: इस बार टिकट से पहले ही नवीन दुम्का को चित्त करने के मूड में हैं उनके ‘अपने’

    spot_img
    spot_img

    तेजपाल नेगी
    लालकुआं।
    चुनावी बेला में स्थानीय विधायक नवीन दुम्का की राह में जितने कांटे विपक्ष ने नहीं बिछाएं हैं जितने उनकी अपनी पार्टी के नेताओं ने बोए हैं। नवीन दुम्का की समझ में नहीं आ रहा है कि वे अपनों के बुने चक्र ब्यूह से कैसे बाहर निकलें। संभवत: लालकुआं ही नैनीताल जिले की एक ऐसी विधानसभा सीट है जिसमें भाजपा के अंदर से ही वर्तमान विधायक के होते हुए आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार खंभ गाढ़े खड़े हैं।


    दरअसल लालकुआं सीट भाजपा के नेताओं को शुरू से ही साफ्ट टारगेट लगती है। ऐसा इसलिए यहां कुमाऊं के हर जिले से आए लोग निवास करते हैं। संभवत: यही वजह है कि पिथौरागढ़ के दिवंगत प्रकाश पंत भी कभी यहां विशेष रूचि लिया करते थे। प्रकाश के निधन के बाद नवीन दुम्का का रास्ता तो साफ हुआ लेकिन इस बार दावेदारों की पूरी फौज ही आ डटी।

    अब लालकुआं विधानसभा सीट पर हालत एक अनार सौ बीमारों जैसी हो चली है। ऐसा नहीं है कि पिछले विधानसभा चुनावों में यहां से किसी ने दावेदारी नहीं की, लेकिन सब पर नवीन दुम्का ही भारी पड़े और पार्टी का टिकट ले उड़े। अब जब दुम्का स्वयं विधायक हैं, उनकी ही पार्टी के आधे दर्जन से ज्यादा लोग यहां से चुनावी वैतरणी पार करने के लिए पिछले कई महीनोंं से लालकुआं में हाथ पैर मार रहे हैं।


    अब जब इतने दावेदार हैं तो कूटनीति भी होगी। कूटनीति होगी तो साजिशें भी सामने आएंगी। असल राजनेता वह है जो तमाम साजिशों को किनारे करके अपने रास्ते पर आगे बढ़े। दुम्का की अपनी ही पार्टी के दावेदार बीच बीच में उनके खिलाफ सोशल मीडिया पर साजिशें रचने से भी पीछे नहीं हटते। कभी उनकी मजाकिया क्लिप बना कर तो कभी उनके खिलाफ किसी भी तरह कि पोस्ट शेयर करके उनकी छवि को धक्का लगाने का प्रयास लालकुआं में सतत जारी है।वे यह जानते हैं कि नवीन का हाथ सोशल मीडिया पर थोड़ा टाइट है। इसलिए दुम्का के ये ‘अपने’ उनके खिलाफ सोशल मीडिया का ब्रळमास्त्र के रूप में प्रयोग करते हैं।

    रामपुर बुशहर…#आंदोलन : सीपीएम ने केंद्र व राज्य के खिलाफ खोला मोर्चा, जोरदार प्रदर्शन


    इस बात से दुम्का भी भलि भांति वाकिफ हैं। वे जानते हें कि उनकी ही पार्टी के लोग विधानसभा क्षेत्र से दावेदारी कर चुके हैं। वे कई बार मीडिया से रूबरू होकर अपना दर्द भी बयान कर चुके हैं। हाल ही में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान दुम्का ने रैली के प्रमुख वाहन में सांसद अजय भट्ट के साथ कैमरों की स्क्रीन शेयर करने का मोह ही था जब दुम्का ने एक नेता को कोहनी ही मार दी थी। उनका यह वीडियो क्लिप उनके इन्हीं ‘अपनों’ ने वायरल किया था।

    लालकुआं… #अपराध : नाम कंटर व शूटर, करते थे राह चलते झपटमारी, पकड़े गए, तीसरे की तलाश


    अब खबर यह है कि भाजपा के कई दावेदार गांव—गांव जाकर दुम्का के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं। खबर यह भी है कि ये दावेदार गांवों में जाकर यह भी प्रचार कर रहे ​हैं कि इस बार पार्टी दुम्का से नाराज है और उनका टिकट कटना तय हैं। ऐसे में दुम्का किस—किस को सफाई दें यह समझ नहीं पा रहे हैं।

    ब्रेकिंग…सितारगंज:सामने आया कोतवाली पुलिस के जवान का खौफनाक रूप, हो गया सस्पेंड


    खैर दुम्का को आने वाले दिनों में ऐसे और भी षडयंत्रों से दो चार होना पड़ सकता है। ऐसे षडयंत्रों से वे कैसे निपटते है इसी से उनकी राजनीति दक्षता का भी पता चलेगा।

    जानिए दुम्का की सीट पर किस— किस की है नजर, कल

    India : Covid update
    34,656,822
    Total confirmed cases
    Updated on December 8, 2021 1:02 pm
    spot_img
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    4 COMMENTS

    1. कुछ काम किये होते तो ये हालात नही होते, इनके बस का कुछ नही है,इनको आराम दो और 10 साल ट्रेनिंग दो,एक सड़क चौड़ीकरण को कहा मगर वो भी नही कर पाये, लोगो के घरों की सड़क भी 15 फिट के है और हमारे गांव हरिपुर शिव दत्त के सड़क अआज भी10 फिट की रह गयी है,हाथ भी जोड़े मगर जीतने के बाद आम आदमी के कोन सुनता है,

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :

    लालकुआं…#दुम्का के दुश्मन: इस बार टिकट से पहले ही नवीन दुम्का को चित्त करने के मूड में हैं उनके ‘अपने’

    spot_img

    तेजपाल नेगी
    लालकुआं।
    चुनावी बेला में स्थानीय विधायक नवीन दुम्का की राह में जितने कांटे विपक्ष ने नहीं बिछाएं हैं जितने उनकी अपनी पार्टी के नेताओं ने बोए हैं। नवीन दुम्का की समझ में नहीं आ रहा है कि वे अपनों के बुने चक्र ब्यूह से कैसे बाहर निकलें। संभवत: लालकुआं ही नैनीताल जिले की एक ऐसी विधानसभा सीट है जिसमें भाजपा के अंदर से ही वर्तमान विधायक के होते हुए आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार खंभ गाढ़े खड़े हैं।


    दरअसल लालकुआं सीट भाजपा के नेताओं को शुरू से ही साफ्ट टारगेट लगती है। ऐसा इसलिए यहां कुमाऊं के हर जिले से आए लोग निवास करते हैं। संभवत: यही वजह है कि पिथौरागढ़ के दिवंगत प्रकाश पंत भी कभी यहां विशेष रूचि लिया करते थे। प्रकाश के निधन के बाद नवीन दुम्का का रास्ता तो साफ हुआ लेकिन इस बार दावेदारों की पूरी फौज ही आ डटी।

    अब लालकुआं विधानसभा सीट पर हालत एक अनार सौ बीमारों जैसी हो चली है। ऐसा नहीं है कि पिछले विधानसभा चुनावों में यहां से किसी ने दावेदारी नहीं की, लेकिन सब पर नवीन दुम्का ही भारी पड़े और पार्टी का टिकट ले उड़े। अब जब दुम्का स्वयं विधायक हैं, उनकी ही पार्टी के आधे दर्जन से ज्यादा लोग यहां से चुनावी वैतरणी पार करने के लिए पिछले कई महीनोंं से लालकुआं में हाथ पैर मार रहे हैं।


    अब जब इतने दावेदार हैं तो कूटनीति भी होगी। कूटनीति होगी तो साजिशें भी सामने आएंगी। असल राजनेता वह है जो तमाम साजिशों को किनारे करके अपने रास्ते पर आगे बढ़े। दुम्का की अपनी ही पार्टी के दावेदार बीच बीच में उनके खिलाफ सोशल मीडिया पर साजिशें रचने से भी पीछे नहीं हटते। कभी उनकी मजाकिया क्लिप बना कर तो कभी उनके खिलाफ किसी भी तरह कि पोस्ट शेयर करके उनकी छवि को धक्का लगाने का प्रयास लालकुआं में सतत जारी है।वे यह जानते हैं कि नवीन का हाथ सोशल मीडिया पर थोड़ा टाइट है। इसलिए दुम्का के ये ‘अपने’ उनके खिलाफ सोशल मीडिया का ब्रळमास्त्र के रूप में प्रयोग करते हैं।

    रामपुर बुशहर…#आंदोलन : सीपीएम ने केंद्र व राज्य के खिलाफ खोला मोर्चा, जोरदार प्रदर्शन


    इस बात से दुम्का भी भलि भांति वाकिफ हैं। वे जानते हें कि उनकी ही पार्टी के लोग विधानसभा क्षेत्र से दावेदारी कर चुके हैं। वे कई बार मीडिया से रूबरू होकर अपना दर्द भी बयान कर चुके हैं। हाल ही में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान दुम्का ने रैली के प्रमुख वाहन में सांसद अजय भट्ट के साथ कैमरों की स्क्रीन शेयर करने का मोह ही था जब दुम्का ने एक नेता को कोहनी ही मार दी थी। उनका यह वीडियो क्लिप उनके इन्हीं ‘अपनों’ ने वायरल किया था।

    लालकुआं… #अपराध : नाम कंटर व शूटर, करते थे राह चलते झपटमारी, पकड़े गए, तीसरे की तलाश


    अब खबर यह है कि भाजपा के कई दावेदार गांव—गांव जाकर दुम्का के खिलाफ प्रचार कर रहे हैं। खबर यह भी है कि ये दावेदार गांवों में जाकर यह भी प्रचार कर रहे ​हैं कि इस बार पार्टी दुम्का से नाराज है और उनका टिकट कटना तय हैं। ऐसे में दुम्का किस—किस को सफाई दें यह समझ नहीं पा रहे हैं।

    ब्रेकिंग…सितारगंज:सामने आया कोतवाली पुलिस के जवान का खौफनाक रूप, हो गया सस्पेंड


    खैर दुम्का को आने वाले दिनों में ऐसे और भी षडयंत्रों से दो चार होना पड़ सकता है। ऐसे षडयंत्रों से वे कैसे निपटते है इसी से उनकी राजनीति दक्षता का भी पता चलेगा।

    जानिए दुम्का की सीट पर किस— किस की है नजर, कल

    India : Covid update
    34,656,822
    Total confirmed cases
    Updated on December 8, 2021 1:02 pm
    spot_img
    - Advertisment -spot_imgspot_img
    spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
    RELATED ARTICLES

    4 COMMENTS

    1. कुछ काम किये होते तो ये हालात नही होते, इनके बस का कुछ नही है,इनको आराम दो और 10 साल ट्रेनिंग दो,एक सड़क चौड़ीकरण को कहा मगर वो भी नही कर पाये, लोगो के घरों की सड़क भी 15 फिट के है और हमारे गांव हरिपुर शिव दत्त के सड़क अआज भी10 फिट की रह गयी है,हाथ भी जोड़े मगर जीतने के बाद आम आदमी के कोन सुनता है,

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    UPDATES

    UTTARAKHAND

    Recent Comments :