अल्मोड़ा न्यूज : पजीना क्षेत्र की शेर विद्यापीठ पंपिंग योजना फेज 2 पखवाड़े भर से खराब, 29 गांवों में पानी के लिए हा—हाकार

0
Ad

अल्मोड़ा। जल संस्थान की घोर लापरवाही के कारण अल्मोड़ा की शेर विद्यापीठ पंपिंग योजना फेज 2 पिछले 15 दिनों से खराब पड़ी हुई है। इस कारण पजीना सहित आसपास के 29 गांव पेयजल की भारी समस्या का सामना कर रहे हैं। स्थानीय लोगों ने समाधान ना होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। दूसरी ओर स्थानीय विधायक और राज्यमंत्री रेखा आर्य ने समस्या के शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया है।
पिछले 15 दिनों से शेर विद्यापीठ पंपिंग योजना फेस टू मीटर और ट्रांसफार्मर खराब होने के कारण पानी की सप्लाई रुकी हुई है जिस कारण पोखरी, मलौना, ख्यूशालकोट, खुड़ोली कनार तथा आसपास के 29 गांवों में पेयजल के लिए भारी हाहाकार मचा हुआ है। इस संबंध में स्थानीय लोगों द्वारा जल संस्थान के उच्चाधिकारियों से शिकायत की गई किंतु अभी तक कोई उचित कार्यवाही नहीं हो सकी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि अगले 3 दिनों में पंपिंग योजना से निरंतर जलापूर्ति सुचारू नहीं की गई तो वे आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।
स्थानीय निवासी डॉ मनोज ने इस संबंध में महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य से दूरभाष पर बातचीत की। मंत्री ने इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया है। पजीना के ग्राम प्रधान ख्यालीराम का कहना है कि यह पंपिंग योजना जब से चालू की गई है तब से इसकी कोई मरम्मत नहीं की गई है। जबकि शेर विद्यापीठ पंपिंग योजना आसपास के 29 गांवों के निवासियों के लिए जीवन रेखा की तरह है।

Ad
Ad
यह भी पढ़ें 👉  पिथौरागढ़…गर्भवती का सड़क किनारे एंबुलेंस में सुरक्षित प्रसव कराया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here