खटीमा…ब्रेकिंग : उधर— यूपी के पौंटा डैम में मिला बालक वीर का शव, परिजनों ने की शिनाख्त, इधर— अज्ञात लोगों पर मगरमच्छ की हत्या का केस दर्ज

0
Ad

खटीमा। देवहा नदी के किनारे भैंस चराने गए 11 साल के बच्चे को मगरमच्छ के पानी में खींचकर ले जाने की घटना के तीसरे दिन बालक का क्षत विक्षत शव बरामद हुआ है। शव यूपी के अमरिया क्षेत्र में पौटा डैम में मिला है। यूपी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पीलीभीत भेज दिया।


गौरतलब है कि रविवार की शाम को यूपी सीमा से सटे गांव मेहरबान नगर की मीना देवी 11 वर्षीय बेटा वीर सिंह देवहा नदी किनारे भैंस चरा रहा था। भैंस के नदी में घुसने पर वीर उसे बाहर लाने के लिए नदी में चला गया था, जहां एक मगरमच्छ ने उसे पानी के भीतर खींच लिया था। वीर के पिता का पहले ही देहांत हो चुका था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड…ब्रेकिंग न्यूज: पेपर लीक मामले में भाजपा नेता हाकम सिंह गिरफ्तार

सितारगंज… अनिलदीप की उन्नतिशील खेती की तारीफ सुनकर खिंचे चले आये डीएम, लिया काले चावल की खीर और पीले तरबूज का स्वाद


ग्रामीणों ने जाल डालकर एक मगरमच्छ को बाहर निकाला था लेकिन जांच में उस मगरमच्छ के पेट में कोई मानव अंश नहीं मिला था। वहीं लाठी-डंडों के वार से घायल मगरमच्छ ने बाद में दम तोड़ दिया था। इसी बीच, यूपी के अमरिया क्षेत्र के धुंधरी गांव के पास पौटा डैम में ग्रामीणों को बच्चे का शव फंसा दिखाई दिया।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं…बिग ब्रेकिंग: नौकरी का लालच देकर पड़ोसन का शारीरिक शोषण कर ठगी कर रहा फौजी, हल्द्वानी के होटल में किया रेप

हल्द्वानी…दुस्साहस: आफिस बंद करके रात को घर पहुंचे दो बिजनेस पार्टनर, अंदर काका हाल देखकर उड़ होश…फिर क्या हुआ

ग्रामीणों की सूचना पर परिजन और अमरिया थाने की पुलिस घटनास्थल पहुंचे। पुलिस ने बालक के शव को बाहर निकलवाया। परिजनों ने शव की शिनाख्त वीर सिंह के रूप में की। शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पीलीभीत भेजा गया। एसडीएम रविंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि बच्चे का एक पैर और एक हाथ मगरमच्छ ने खाया है।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग न्यूज: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी फिर कोरोना संक्रमित

गढ़वाल…बारिश का कहर : पहाड़ों पर जन जीवन अस्त व्यस्त, दर्जनों सड़कें बंद, टिहरी में कार पर गिरे पत्थर, एक की मौत, तीन घायल


उधर वन विभाग ने मगरमच्छ की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। खटीमा वन क्षेत्र के रेंजर राजेंद्र सिंह मनराल ने बताया कि मगरमच्छ की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ वन्यजीव जंतु संरक्षण अधिनियम के तहत केस दर्ज कराया गया है।

Ad
Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here