नालागढ़ ब्रेकिंग : पत्नी प्रधान और प्रधान होने का रोभ दिखा रहा पति, उपप्रधान ने लगाए जानलेवा हमले के आरोप

0
Ad

नालागढ़। पत्नी प्रधान है और प्रधान होने का रोभ पति दिखा रहा है हालांकि सरकार द्वारा कहा भी गया है कि अगर कोई पति अपनी पत्नी के प्रधान होने पर विकास कार्यों एवं पंचायत के निर्माण कार्य में इंटरफेयर करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी लेकिन यहां बात बारियां पंचायत की करते हैं जहां पर प्रधान तो पत्नी है लेकिन प्रधान होने का रोभ उसका पति दिखा रहा है। और उसी पंचायत में उपप्रधान पर जातिसूचक शब्द एवं मारपीट करता है मामला बारिया पंचायत के टिकट पनोह गांव का है जहां पर एक सामुदायिक भवन के निर्माण को लेकर बैठक रखी गई थी और बैठक में पंचायत के ही उपप्रधान रविंदर कुमार उर्फ काडु बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे बैठक में ग्राम पंचायत बारिया की प्रधान तो नहीं आई लेकिन प्रधान होने का रोभ झाड़ने के लिए ग्राम पंचायत बारिया के प्रधान का पति अपने आधा दर्जन के करीब लोगों के बीच मौके पर पहुंच गया।

Ad

अपने प्रधान होने का रोभ झड़ते हुए उपप्रधान से बदतमीजी पर उतर आया इतना ही नहीं रुका उसके बाद उपप्रधान के ऊपर जहां जाति सूचक शब्द कहे गए और उसके बाद उपप्रधान पर आधा दर्जन के करीब लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया हालांकि उप प्रधान की पत्नी भी वहीं मौके पर थी और पत्नी बीच-बचाव करने आई तो उसको भी गले से पकड़ लिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात… आज का पंचांग,आज का इतिहास, मां महागौरी की महिमा और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल

ऐसे आरोप ग्राम पंचायत बारियां के उप प्रधान रविंद्र कुमार काडु द्वारा ग्राम पंचायत बारिया की प्रधान के पति पर लगाए जा रहे हैं फिलहाल पीड़ित द्वारा पुलिस थाना नालागढ़ में शिकायत देकर कहा गया है कि वह बैठक में शामिल हुए थे और बैठक में समुदायिक भवन के निर्माण को लेकर बातचीत चल रही थी बातचीत में ग्राम पंचायत बारिया की प्रधान का पति मंदिर के साथ लगे पीपल के पेड़ को काटने की बात कह रहा था लेकिन पीड़ित का कहना है कि उसे कहा गया कि सरकार द्वारा पेड़ लगाए जा रहे हैं और यहां पर पेड़ को काटने की बजाय समुदायिक भवन को थोड़ा दूसरी साइड को बढ़ा दिया जाए बस इसी बात को लेकर ग्राम पंचायत बारिया के प्रधान के पति द्वारा आधा दर्जन के करीब लोगों द्वारा पीड़ित पर जानलेवा हमला कर दिया गया और पीड़ित को जाति सूचक शब्द भी कहे गए जिसको लेकर दलित समाज के लोगों में भी खासा रोष देखा जा रहा है मामले में पीड़ित द्वारा पुलिस थाना नालागढ़ में शिकायत देकर आरोपी प्रधान के पति के खिलाफ एवं अन्य लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करवाने की मांग रखी गई है और मामले में एससी एसटी एक्ट भी लगाने की गुहार लगाई जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  सुप्रभात….आज का पंचांग, आज का इतिहास, आज से बदल रहे हैं यह नियम और आचार्य पंकज पैन्यूली से जानें अपना आज का राशिफल

आपको बतां दें कि एक तरफ सरकार प्रदेश को ग्रीन बनाने को लेकर जगह-जगह पर पेड़ लगाने की बात कर रही है वहीं दूसरी ओर ग्राम पंचायत बारिया की प्रधान का पति एक समुदायिक भवन के निर्माण को लेकर पेड़ काटने की बात कर रहा था और जब उसे पेड़ काटने को रोका गया तो वह दलित समाज से संबंधित उप प्रधान पर हावी हो गया और उस पर अपनी प्रधानगी का रोभ झाड़ने हुए जहां उप प्रधान को जातिसूचक शब्द कहे गए वहीं उसके साथ जमकर मारपीट भी की गई। हालांकि सरकार द्वारा कहा गया है कि कोई भी प्रधान अगर महिला है तो उसका पति किसी भी काम में इंटरफेयर नहीं करेगा लेकिन यहां पर सरेआम ग्राम पंचायत बारिया के प्रधान के पति की गुंडागर्दी देखने में सामने आई है अब देखना यह होगा कि पुलिस प्रशासन ऐसे गुंडा तत्वों के खिलाफ क्या कार्रवाई करता है और पंचायती विभाग भी ग्राम पंचायत बारिया की प्रधान एवं उसके पति के खिलाफ क्या कार्रवाई करते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  नालागढ़: नाले में बहा ड्यूटी पर जा रहा सिक्योरिटी गार्ड,नहीं लगा कोई सुराग

इस बारे में जब हमने बीडीओ नालागढ़ विश्व मोहन देव चौहान से बात की तो उन्होंने कहा कि ना तो उप प्रधान की ओर से कोई शिकायत आई है और ना ही पंचायत बारिया की ओर से उनके पास कोई शिकायत आई है उन्होंने कहा कि ऐसे मामला अगर है तो उसकी जांच करवाई जाएगी और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी उन्होंने कहा कि अगर महिला प्रधान है तो वही पंचायत के विकास कार्यों में इंटरफेयर कर सकती है अगर उनका पति ऐसे इंटरफेयर करता है तो उनके खिलाफ जांच के बाद बनती कार्रवाई की जाएगी।

फिलहाल इस मामले को लेकर जब हमने नालागढ़ पुलिस से बात की तो उनका कहना है कि उनके पास ग्राम पंचायत बारिया के उप प्रधान रविंद्र कुमार की ओर से शिकायत आई है जिसको लेकर पुलिस मामले की जांच कर रही है और शिकायतकर्ता द्वारा दी गई शिकायत को दर्ज कर लिया गया है पुलिस का कहना है कि मामले में जांच के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Ad

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here